Sunday , May 20 2018
Home / Featured / …..तो इसलिए किन्नरों के घर भोजन करना निषेध माना गया है।
transgender
transgender

…..तो इसलिए किन्नरों के घर भोजन करना निषेध माना गया है।

…तो इसलिए नहीं खाना चाहिए किन्नरों के घर खाना

transgender
Transgender

1. जानते हैं कि हिन्दू शास्त्रों में किन-किन जगहों और किन-किन लोगों के हाथ से बना भोजन करना पूर्णत: वर्जित कहा गया है। भारतीय संस्कृति और धर्म-ग्रंथों में किन्नरों को दान करना शुभ बताया गया है।

2.शास्त्रों के अनुसार जो व्यक्ति गंभीर रोग से पीड़ित होता है या फिर कोई ऐसा व्यक्ति जिसे कोई असाध्य रोग अपनी चपेट में लिए हुए है, उसके घर भोजन करने से आप भी उस रोग की चपेट में आ जाते हैं।

3. दरअसल किन्नरों को अच्छा-बुरा, हर व्यक्ति कुछ न कुछ दान की वस्तु देता है इसलिए यह पता लगाना मुश्किल है कि जिस भोजन को ग्रहण किया जा रहा है वह अच्छे व्यक्ति का है या बुरे, इसलिए किन्नरों के घर भोजन करना निषेध मान

गया है।

4.ऐसा माना जाता है कि इन्हें दान देने पर हमें अक्षय पुण्य की प्राप्ति होती है।
5.गरुड़ पुराण में बताया गया है कि इन्हें दान देना चाहिए, लेकिन इनके यहां भोजन नहीं करना चाहिए।

6. किन्नर कई प्रकार के लोगों से दान में धन प्राप्त करते हैं। इन्हें दान देने वालों में अच्छे-बुरे, दोनों प्रकार के लोग होते हैं।

…..तो इसलिए किन्नरों के घर भोजन करना निषेध माना गया है।
Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published.