Sunday , May 20 2018
Home / Reviews / Housefull 3 Movie Review-Read Before Watch Movie
Housefull-3 movie review
Housefull-3 movie review

Housefull 3 Movie Review-Read Before Watch Movie

Housefull 3 Movie Review-Read Before Watch Movie

अक्षय कुमार,अभिषेक बच्चन ,रितेश देशमुख स्टार ‘हाउसफुल 3’ रिलीज़ हो गए हैं,इसे साजिद फरहाद की जोडी ने डायरेक्ट किया हैं| ‘हाउसफुल 3’ ‘हाउसफुल’ का तीसरा संस्करण हैं,अभिषेक बच्चन इस फिल्म मैं जोनइब्राहीम की जगह अभिनय कर रहे हैं, हौसफुल-3 बॉक्स ऑफिस मैं धमाल मचा रही हैं,अगेर आप इस फिल्म को देखना चाहते हैं
तो अपना दिमाग घर रखा के आइये,अक्षयकुमार की ज़बरदुस्त अभिनय आपको हुस हस के लोटपोट कर देगा |

लोगो को फिल्म देखने के लिए हसी मजाक के साथ फिल्म में ग्लैमरस किरदार को भी जमकर इस्तिमाल किया गया हैं,फिल्म मैं नरगिस फाखरी,लीज़ा हेडन और जैकलीन फर्नांडिज़ को तीनों अभिनेता अक्षय, रितेश और अभिषेक बच्चन के लिए रखा गया है।

हाउसफुल 3′ जो शुक्रवार को रिलीज हुई,इसकी सही बोक्स ऑफिस कलेक्शन रिपोर्ट शनिवार ओर रविवार को होगी,जिसके आधार पर कह सकते हैं के ये बोक्स ऑफिस पैर क्या कारोबार करती हैं|

‘हाउसफुल 3’ जो शुक्रवार को रिलीज हुई,इसकी सही बोक्स ऑफिस कलेक्शन रिपोर्ट शनिवार ओर रविवार को होगी,जिसके आधार पर कह सकते हैं के ये बोक्स ऑफिस पैर क्या कारोबार करती हैं|

फिल्म की कहानी

यह कहानी मशहूर बिजनेसमैन बटुक पटेल (बोमन ईरानी) की है, जिसकी 3 बेटियां गंगा पटेल उर्फ ग्रेसी (जैकलीन फर्नांडीज), जमुना पटेल उर्फ जैनी (लीजा हेडन) और सरस्वती पटेल उर्फ सारा (नरगिस फखरी) हैं। बटुक को गलतफहमी है कि उसकी बेटियां सबसे ज्यादा संस्कारी हैं। जबकि अपने नाम की तरह ये तीनों बिल्कुल भी संस्कारी नहीं हैं। बटुक चाहता है कि उसकी बेटियों की शादी कभी न हो, जबकि बेटियां अपना-अपना जीवन साथी चुन चुकी हैं।

गंगा तो दीवानी है सैंडी (अक्षय कुमार) की और जमुना को पसंद है टैडी (रितेश देशमुख), जिसकी जबान हर बात में ऐसे फिसलती है जैसे केले के छिलके पर पैर…अब बची सरस्वती, जिसके सपनों का राजकुमार है बंटी (अभिषेक बच्चन)। बटुक को जब ये पता चलता है कि उसकी बेटियां शादी के लिए अपने-अपने वर चुन चुकी हैं तो वह अपने दोस्त आखिरी पास्ता (चंकी पांडे) के साथ मिल कर एक दांव खेलता है।

पास्ता, एक फर्जी ज्योतिषी बन कर बटुक की तीनों बेटियों को समझाता है कि अगर उनके पतियों ने बटुक के घर में कदम रखा, उसे देखा या उसे पुकारा तो वह मर जाएगा। जल्द ही इसका भी तोड़ निकल आता है।

फिल्म की कहानी एक बार फिर से कन्फ्यूजन से भरी हुई है, लेकिन बहुत सारे पंच आपको जरूर हंसाते हैं. जैसे बमन ईरानी एक जगह कहते हैं ‘खुश रहना चाहिए, गम्भीर तो गौतम भी है’. हालांकि कहानी बीच में थोड़ी खींची भी नजर आती है लेकिन परफॉर्मेंस अच्छी होने की वजह से चल जाती है.

फिल्म का डायरेक्शन

हमेशा की तरह फिल्म की लोकेशन वही है, लंदन,साजिद फरहाद ने अच्छा डायरेक्शन दिया है |

कमजोर कड़ी
फिल्म की कहानी ही इसकी सबसे कमजोर कड़ी है, अगर आप दिमाग नहीं लगाएंगे तो ये फिल्म आपको अच्छी लग सकती है.

क्यों देखें
अगर आप ने हाउसफुलह की पिछली फिल्म देखि हैं और आप कॉमेडी मूवीज पसंद करते हैं,तो आप इस फिल्म को देख सकते हैं|

अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें.
ट्विटर पर uptrencom को follow करे|

Housefull 3 Movie Review-Read Before Watch Movie
Rate this post

Leave a Reply

Your email address will not be published.